LST Shop

सही विधि-विश्वविद्यालय का चुनाव कैसे करें ?
view in English

सही विधि विश्वविद्यालय का चुनाव कैसे किया जाए ? क्या यह चुनाव शैक्षिक स्तर के आधार पर होना चाहिए या फिर हमें यह देखना चाहिए कि वकालत के जगत में किस विश्वविद्यालय की कितनी साख है ? विभिन्न स्त्रोतों क द्वारा प्रत्येक कॉलेज को अलग-अलग स्थान दिया जाता है । जो कि विद्यार्थियों के मन में झन को जन्म देता है ।

हमारे अनुसार किसी भी विश्वविद्यालय की अन्य विश्वविद्यालयों से तुलना करने के लिए निम्नलिखित आधार से अपनाने चाहिएँ ।

१) व्यापार/वकालत के जगत में प्रतिष्ठा
२) विदेशी विधि-विश्वविद्यालयों में प्रतिष्ठा
३) छात्रों की प्रतिष्ठा
४) शैक्षिक स्तर
५) नियोजन स्तर
६) विश्वविद्यालय का स्थान
७) अन्य भारतीय विधिविश्वविद्यालयों में प्रतिष्ठा
८) छात्रावास की सुविधाओं का स्तर
९) पुस्तकालय एवं कम्प्यूटर सुविधाएँ
१०) प्रवेश प्रक्रिया का स्तर.

इन आधारों पर हमारे हिसाब से NLSIU, NUJS, NALSAR एवं NLU (अनिवार्यत: इस क्रम में नहीं) भारत के चार सर्वश्रेष्ठ विधि विश्वविद्यालय हैं। 'नैश्नल लॉ स्कूल' नाम आज की तारीख में उच्च स्तरीय विधि-शास्त्र शिक्षा के साथ अटूट बंधन बना चुका है ।

NLIU, GLC मुम्बई, ILS पुणे एवं Symbiosis पुणे हमोर हिसाब से उपरोक्त चार विश्वविद्यालयों से एक कदम पीछे है । इन चार विश्वविद्यालयों में से भी पहले तीन Symbiosis से थोड़ा आगे हैं जहाँ पर शैक्षिक स्तरों आदि में बेहतरी का अवसर है । ILS एवं GLC वकालत जगह एवं विदेशी विश्वविद्यालयों में प्रतिष्ठित हैं। NLIU सर्वोतम विश्वविद्यालयों की श्रेणी में पहुंच सकता है यदि वह अपनी प्रवेश प्रक्रिया में आरक्षण घटा दें । पांच वर्षों वाला पाठ्यक्रम न प्रस्तावित करते हुए भी फॅकल्टी ऑफ लॉ, दिल्ली, NLIU, GLC आदि की श्रेणी में आ सकता है ।

GNLU गांधीनगर एवं HNLU रायपुर अभी बाल अवस्था में होते हुए भी निरंतर सफलता की सीढ़ी चढ़ रहे हैं । GNLU की गति HNLU से थोड़ी अधिक है ।

विभिन्न विश्व विद्यालयों की तुलना पर एक विस्तृत जानकारी हम कुछ ही समय में आपके लिए लाने वाले हैं ।